Home » Blog » दुनिया की पहली physical cryptocurrency पीएनपी कॉइन(PNP COIN)

दुनिया की पहली physical cryptocurrency पीएनपी कॉइन(PNP COIN)

आजकल चारों तरफ निवेश बाजार में डिजिटल करेंसी की धूम मची हुई है | क्रिप्टो करेंसी निवेशकों की बाजार में निवेश करने के लिए पहली पसंदीदा करेंसी बन गई है, और जब से एलन मस्क ने तथा अन्य बड़े उद्योगपतियों ने क्रिप्टो करेंसी के बारे में अपने बयान दिए हैं | तब से आम लोगों के बीच में भी धीरे-धीरे क्रिप्टो करेंसी का चलन लगातार बढ़ता ही जा रहा है  |फिर भी लोगों के मन में इस करेंसी के निवेश को लेकर डर है | आइए हम आपके इस संशय को दूर करते हैं | इस करेंसी की सबसे अच्छी बात यह है कि इसका कोई भौतिक रूप नहीं है | इसे कोई चुरा नहीं सकता है | बल्कि आपके पास यह डिजिटल रूप में उपलब्ध रहेगी |

डिजिटल करेंसी सुविधाजनक इसलिए भी है की इस करंसी के इन्वेस्टमेंट के लिए आपको किसी भी सरकारी हस्तक्षेप से होने वाली परेशानी का सामना नहीं करना पड़ता है | जबकि भौतिक मुद्रा के निवेश के लिए हमें सरकारी हस्तक्षेप का सामना करना पड़ता है , जो कि निवेशकों के लिए कभी कभी नुकसानदायक भी साबित हो जाता है | इसका मुख्य कारण यह है कि भौतिक मुद्रा सरकारी विकेंद्रीकरण के द्वारा प्रस्तावित की जाती है | अब हम आपको बता रहे हैं दुनिया की सबसे पहले क्रिप्टो करेंसी जिसका नाम पीएनपी कॉइन है |

 दुनिया की पहली physical cryptocurrency कौन सी है?

दुनिया की पहली क्रिप्टो करेंसी बिटकॉइन है | यह क्रिप्टो मुद्रा, बाइनरी डाटा एक्सचेंज का एक ऐसा माध्यम है जिसे जिसे निवेश के लिए बाजार में उतारा गया है | यह सिक्का स्वामित्व रिकॉर्ड के साथ एक लेजर में सुरक्षित रखा जाता है | जिसे हम कंप्यूटरीकृत डेटाबेस भी कह सकते हैं | इसके अलावा क्रिप्टो करेंसी को लेनदेन के लिए सुरक्षित रूप से मजबूत माध्यम भी माना जाता है | कुछ क्रिप्टो करेंसी इस्तेमाल करने के लिए आपको सत्यापन भी कराना पड़ता है |

 क्रिप्टो करेंसी को आप प्रूफ- ऑफ- स्टेट- मॉडल यानी मालिक के द्वारा अपने टोकन को सुरक्षित रखने के लिए बाधित करता है | इसके बदले में आपको उस टोकन राशि के अनुपात में दांव लगाने का या निवेश करने का अधिकार प्राप्त हो जाता है | आमतौर पर इन टोकन टेकर्स को समय-समय पर नेटवर्क निवेश के लिए नए नियम भी बनाए गए टोकन के इस्तेमाल के लिए भी अतिरिक्त स्वामित्व प्राप्त हो जाता है |  हम आपको पहले भी बता चुके हैं कि क्रिप्टो करेंसी कोई भी कागज ईंधन नहीं है और यह किसी भी केंद्रीय प्राधिकरण के द्वारा जारी नहीं किया जाता है |

 यानी सरकार का या किसी भी अधिकारी का कोई भी हस्तक्षेप इसमें ना के बराबर होता है |

क्रिप्टो करेंसी से जुड़ी कुछ अन्य जानकारियां

 जब  एक जारीकर्ता द्वारा जारी या जारी करने से पहले क्रिप्टो करेंसी का खनन या निर्माण किया जाता है, तो इसे आमतौर पर केंद्रीकृत माना जाता है | जब विकेंद्रीकृत नियंत्रण के साथ इसे कार्यान्वित किया जाता है तो प्रत्येक क्रिप्टो करेंसी वितरित लेजर तकनीक के माध्यम से काम करती है | आमतौर पर इसे एक ब्लॉकचेन कहा जाता है, जो सार्वजनिक वित्तीय लेनदेन डेटाबेस के रूप में कार्य करती है |

 बिटकॉइन पहली बार 2009 में ओपन सोर्स सॉफ्टवेयर के रूप में जारी किया गया था | यह पहला विकेंद्रीकृत क्रिप्टो करेंसी है बिटकॉइन के जारी होने के बाद बहुत सारी अन्य क्रिप्टो करेंसी अभी बाजार निवेशकों के लिए अब उपलब्ध हो गई है |

PNP क्रिप्टो करेंसी के बारे में हिंदी में जानकारी (PNP Coin In Hindi)

 PNP क्रिप्टो करेंसी को होलिएस  ग्रुप के द्वारा शुरू की गई | यह इस ग्रुप के द्वारा शुरू की गई पहली क्रिप्टो करेंसी थी | इस क्रिप्टो करेंसी की खास बात यह है, कि यह किसी भी अन्य गर्व्य निमित्त क्रिप्टो करेंसी की तुलना में खुद को मौलिक रूप से सुरक्षित बनाता है | यह क्रिप्टो करेंसी एक तरह की परिसंपत्ति वर्ग है, जो निवेशकों को विलियम के सभी पहलुओं पर स्पष्टता प्रदान करता है |

 भारत मे भी हाल ही में आरबीआई(RBI) के अयोग्य और गैर सुरक्षात्मक रवैया को देखते हुए निवेशकों ने सोचा कि क्रिप्टो करेंसी में निवेश करना बुद्धिमान निवेश हो सकता है | दुनियाभर के निवेशकों में पीएनबी कॉइन इसलिए भी सुरक्षित निवेश का तरीका माना जाता है, क्योंकि यह अपने लिए आत्मक ढांचे तरलता के पर्याप्त  और प्रसिद्ध बाजार सहभागीयों के लिए व्यापक दल की भागीदारी के साथ एक अद्वितीय और स्थापित संपत्ति वर्ग को दर्शाता है |

साथ ही हम आपको यह भी बताना चाहते हैं, कि स्टॉक या एक वटी सिक्योरिटी के समान यदि आप लंबी अवधि के लिए PNP Coins में निवेश करने की सोच रहे हैं, तो आपको निवेश बाजार की अस्थिरता अथवा जोखिम से लाभ मिलेगा |  जब निवेश लंबे समय के लिए होता है, तो यह धन बनाने का आपके लिए एक अद्भुत अवसर हो सकता है |

PNP Coin सुरक्षित कैसे हैं ?

PNP Coin को विनियमित क्रिप्टो करेंसी है, जो कि सुरक्षा के साथ दीर्घकालिक स्थिरता प्रदान करता है | आपको पर्यटन की संभावनाओं के साथ एक टॉप मॉडल के रूप में काम करता है | जिससे निवेश दीर्घकालिक और सुरक्षित हो जाता है | इसके अलावा हेलिओस ने पीएनबी कॉइन के उपयोग को लेकर कुछ ऐसी योजनाएं बनाई है | जिससे आप निकट भविष्य में आश्चर्यजनक लेन देन गति वाले अंतरराष्ट्रीय भुगतान भी कर सकते हैं|

 हेलिओस ग्रुप PNP Coin की ब्लॉकचेन का समर्थन करती है | यह कंपनी प्रोटोकॉल की संरचना का पूर्ण रूप से पालन करती है | वर्ष 2022 तक यह संभावना की जा रही है कि यह क्रिप्टोकरंसी लगभग 30% वृद्धि के साथ मार्केट में उछाल ले करके आएगी मतलब कि यदि आप आज इस में निवेश करते हैं,  तो वर्ष 2022 में आपको कुल निवेश का 30% मुनाफा प्राप्त होगा | जो कि एक बहुत अच्छा डिजिटल करेंसी निवेश का उदाहरण माना जा सकता है |

 किसी भी अन्य क्रिप्टो करेंसी के विपरीत PNP Coin physical cryptocurrency

 जब क्रिप्टो करेंसी या अन्य डिजिटल संपत्तियों की बात आती है, तो आपके दिमाग में इनके मूल्य को लेकर एक कार्यात्मक स्टोर और वास्तविक उपयोग वाली मुद्रा का विचार आता है | बिटकॉइन कोई संपत्ति नहीं है और ना ही इसके पीछे की कोई वेबसाइट योजना है | लेकिन पीएनपी कॉइन आपको यह दोनों और इसके अलावा अन्य कुछ और मौके देता है, ताकि आप निवेश के द्वारा अधिक से अधिक पैसा कमा सकें |

आजकल बाजार में पी एल पी पॉइंट किसी भी अन्य क्रिप्टो करेंसी के विपरीत बहुत अच्छा कार्य कर रहा है | इसका उद्देश्य कार्य क्षमता और वास्तविक मूल्य अन्य डिजिटल करेंसी से अलग है, जो कि इसे बाजार की स्थिरता के प्रति संवेदनशील बनाते हैं | किसी भी अन्य इक्विटी में निवेश की तरह पीएनपी कॉइन भी अन्य क्रिप्टो करेंसी की तुलना में कम स्थिर है, और इसीलिए निवेशकों को यह ध्यान रखना चाहिए कि पीएनबी कॉइन निवेश के बारे में जब भी वह सोचे तो इसे एक दीर्घकालीन निवेश के तौर पर अपनाएं |

क्रिप्टो करेंसी क्योंकि भौतिक मुद्रा ना होकर डिजिटल मुद्रा है | इसीलिए इसका भविष्य भी इलेक्ट्रॉनिक कहा जा सकता है | यदि आप लंबे समय में धन बढ़ाने की चाहत रखते हैं | तो समझदार निवेशक होने के नाते आपको अपने पोर्टफोलियो में विविधता लाने के लिए अथवा अधिक से अधिक संभावित लाभ कमाने के लिए आपको इस करेंसी को लेकर विचार अवश्य करना चाहिए | पीएनबी कॉइन अपने निवेशकों को दीर्घकालीन लाभ में अस्थिरता मुद्रा अवमूल्यन या मुद्रास्फीति के प्रतिकूल गिरावट के खिलाफ सुरक्षित रखता है | 

Leave a Comment

Your email address will not be published.